प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना क्या है? जानें पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना केन्द्र सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं में से एक है. प्रधानमंत्री कौशल विकास एवं उघमता मंत्रालय की और से चलाई जाती है. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य देश में सभी युवा वर्ग को संगठित करके उनके कौशल को निखार कर उनकी योग्यतानुसार रोजगार देना है.

इस योजना के अंतरगर्त पहले वर्ष में 24 लाख वर्कर्स को शामिल किया जायेगा उसके बाद 2022 तक यह संख्या 40.2 करोड़ तक ले जाने की योजना है. इस योजना को 2015 में नई नेशनल स्किल डेवलपमेंट और इंटरप्रोनरशिप पॉलिसी के तहत लांच किया गया था.

कैसे कराये प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में रजिस्ट्रेशन?

  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में आवेदक को अपना नामांकन करना जरुरी होता है. इसके लिए http://pmkvyofficial.org पर जाकर अपना नाम, पता और ईमेल आदि जानकारी भरनी होती है.
  • फार्म भरने के बाद आवेदक जिस तकनीकी क्षेत्र में ट्रेनिंग करना चाहता है उसे चुनना होगा. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग,फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे करीब 40 तकनीकी क्षेत्र दिये गए हैं.
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में पसंदीदा तकनीकी क्षेत्र के एक अतिरिक्त तकनीकी क्षेत्र का भी चयन करना होगा. ये जानकारियां भरने के बाद अपने ट्रेनिंग सेंटर का चयन करना होगा.

आवेदन करने के लिए जरुरी दस्तावेज

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत नौकरी या ट्रेनिंग के लिए आपको निम्न दस्‍तावेजों की आवश्‍यकता होगी

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासस्पोर्ट साइज के दो फोटोग्राफ
  • परिवार के किसी एक सदस्य का आधार कार्ड

ये भी पढ़े:- आयुष्मान भारत योजना क्या है? कौन, कैसे ले सकता है इसका लाभ?जाने पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए पात्रता

  • आपको भारत का नागरिक होना आवश्यक है.
  • जो भी बेरोजगार युवा है वो सभी इस योजना से जूस सकते है.
  • इसके साथ ही इस योजना का लाभ ऐसे युवा भी प्राप्त कर सकते है, जो अपनी पहली जॉब के लिए योग्य है.

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में पाठ्यक्रम की सूची

  • टेक्सटाइल्स कोर्स
  • पावर इंडस्ट्री कोर्स
  • लोजिस्टिक्स कोर्स
  • आईटी कोर्स
  • स्वास्थ्य देखभाल कोर्स
  • फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री कोर्स
  • बीमा, बैंकिंग तथा फाइनेंस कोर्स
  • कृषि कोर्स
  • मोटर वाहन कोर्स
  • निर्माण कोर्स
  • फर्नीचर तथा फिटिंग कोर्स
  • आयरन तथा स्टील कोर्स
  • सुंदरता तथा वैलनेस
  • जेम्स तथा ज्वेलरी कोर्स
  • परिधान कोर्स
  • इलेक्ट्रॉनिक्स कोर्स
  • रिटेल कोर्स
  • हॉस्पिटैलिटी तथा टूरिज्म कोर्स
  • सिक्योरिटी सर्विस कोर्स
  • प्लंबिंग कोर्स
  • एंटरटेनमेंट तथा मीडिया कोर्स
  • लाइफ साइंस कोर्स
  • स्किल कौंसिल फॉर पर्सन विथ डिसेबिलिटी कोर्स
  • टेलीकॉम कोर्स
  • माइनिंग कोर्स
  • भूमिकारूप व्यवस्था कोर्स
  • रबर कोर्स

ट्रेनिंग के लिए फीस

इस योजना के अंतर्गत उम्‍मीदवार का जो भी खर्च हुआ होगा उसके पैसे सरकार देगी और वो पैसे सीधा ट्रेनिंग देने वाले ट्रेनिंग सेंटर के अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे. इसके लिए सरकार ने कुछ नियम भी बनाए हैं जिसके अंतर्गत हर उम्‍मीदवार का आधार वैलिडेशन होना जरुरी है.

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की ट्रेनिंग करने के बाद?

  • सभी युवाओं को उनके परिक्षण क्षेत्र के हिसाब से परिक्षण पूरा करने पर प्रमाण पत्र दिया जायेगा जो पुरे भारत में मान्य होगा और उनको रोजगार दिलाने में उनकी सहायता करेगा.
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए कोई फीस नहीं चुकानी पड़ती है बल्कि बतौर पुरस्कार राशि करीब 8000 रुपये सरकार देती है.
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में ट्रेनिंग करने के बाद सरकार आर्थिक सहायता करने के साथ नौकरी दिलाने में भी मदद करती है. रोजगार मेलों के जरिए सरकार ऐसे युवाओं को नौकरी दिलाने में मदद करती है.
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के पाठ्यक्रम के पूरा होने के बाद आपका SSC द्वारा स्वीकृत मूल्यांकन एजेंसी द्वारा मूल्यांकन किया जाएगा. यदि आप मूल्यांकन पास कर लेते हैं और आपके पास वैध आधार कार्ड है, तो आपको सरकारी प्रमाण पत्र तथा स्किल कार्ड प्राप्त होगा. उम्मीदवार प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में कई बार अपना मूल्यांकन करवा सकते हैं, पर उन्हें हर बार मूल्यांकन शुल्क भरना होगा.

दोस्तों अगर ये पोस्ट आपको अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले. आप इसे facebook या twitter जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर करके और लोगो तक पहुंचाए. धन्यवाद !

ये भी पढ़े:-

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: